38.2 C
Chhattisgarh
Saturday, April 20, 2024

पिक्चर क्लियर है, जनता भाजपा के साथ – संजय श्रीवास्तव

कांग्रेस कार्यकर्ता द्वारा भूपेश बघेल की सीट बदलने की मांग पर प्रदेश भाजपा महामंत्री ने तंज कसा

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश महामंत्री संजय श्रीवास्तव ने कांग्रेस कार्यकर्ता द्वारा राजनांदगांव लोकसभा सीट से पूर्व मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को बदलने की मांग करते हुए कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे को पत्र लिखे जाने पर तंज कसते हुए कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री जिन्होंने पांच साल प्रदेश के मुखिया के रूप में काम किया है। उनके लिए एक आम कांग्रेस के कार्यकर्ता द्वारा कांग्रेस के राष्ट्रीय नेतृत्व को टिकिट बदलने के लिए पत्र लिखना भूपेश बघेल की राजनीतिक स्थिति क्या है, इसको दर्शाता है। एक प्रत्याशी के रूप में चुनाव का क्या परिणाम आएगा एक कार्यकर्ता इसकी चिंता कर रहा है और इस बात पर मुहर लगा रहा है कि पूर्व मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में कांग्रेस का कार्यकाल इस प्रदेश में कैसा रहा है। एक जबर्दस्त वातावरण कांग्रेस के खिलाफ है।

भाजपा प्रदेश महामंत्री संजय श्रीवास्तव ने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री जिसने तीन माह पहले अपना कार्यकाल छोड़ा है। उसके खिलाफ न केवल राजनांदगांव लोकसभा क्षेत्र में बल्कि पूरे प्रदेश में खिलाफत का माहौल है। निश्चित रूप से कांग्रेस का केंद्रीय नेतृत्व इस बात को संज्ञान में लेगा। पहले कहा जाता था – भूपेश है तो भरोसा है,पर आज एक आम कांग्रेस कार्यकर्ता ने इसकी असलियत सामने रख दी। जनता के बीच में कांग्रेस की क्या स्थिति होगी इस बात को समझा जा सकता है। कांग्रेस अपने कार्यकर्ताओं का सामना आज ठीक से नहीं कर पा रही है। कार्यकर्ता कोई प्रश्न करता है उसका निरकारण कैसे होगा। कांग्रेस इतनी कमजोर कैसे हो गई उन्होंने तो उस कार्यकर्ता को पहचानने से इनकार कर दिया। कांग्रेस का कार्यकर्ता राजनांदगांव लोकसभा में किस मूड में बैठा है और किस तरह उनकी खिलाफत करेगा यह परिणाम अपने आप सामने आएगा। दुर्भाग्य की बात है कि पहले परदे के पीछे बात होती थी आज कार्यकर्ता भरे मंच पर पूर्व मुख्यमंत्री के सामने अपनी नाराजगी जता रहे है।

भाजपा प्रदेश महामंत्री संजय श्रीवास्तव ने कहा कि पहले हेराफेर का आरोप लगा अब टिकिट बदलने की मांग हो रही है। पिक्चर क्लियर है। जनता भाजपा के साथ है और हम आज सरकार में हैं। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की हालत काफी नाजुक हो गई है। भ्रष्टाचार और घोटाले में आकंठ तक डूबी कांग्रेस किस मुंह से मतदाताओं से वोट मांगे, कांग्रेस को खुद समझ नहीं आ रहा है। इसलिए कांग्रेस के नेता अपने राष्ट्रीय अध्यक्ष को पत्र लिखकर राजनांदगांव के प्रत्याशी भूपेश बघेल को बदलने की मांग कर रहे हैं। अभी तक कांग्रेस नेताओं पर सिर्फ भ्रष्टाचार के आरोप लग रहे थे। अब तो उनके खिलाफ रिपोर्ट भी दर्ज होने लगी है। कांग्रेस नेता बदनामी के डर से भयभीत हो गए हैं। इसलिए कांग्रेस नेता रामकुमार शुक्ला ने राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिका अर्जुन खड़गे को पत्र लिखकर राजनांदगांव के कांग्रेस प्रत्याशी, पूर्व मुख्यमंत्री भूपेश बघेल मैदान से हटाने की स्पष्ट मांग की है। उन्होंने यहां तक कह डाला कि भूपेश बघेल के कारण कांग्रेस के कई कार्यकर्ता और अधिकारी जेल में हैं और यदि वे चुनाव लड़ते हैं तो इससे कांग्रेस की अन्य सीटे भी प्रभावित होगी। भूपेश बघेल की कांग्रेस के अंदर इतनी दयनीय हालत हो गई है कि कार्यकर्ता सम्मेलन में पूर्व जिला पंचायत सदस्य भी उनके खिलाफ बोलने से नहीं चूक रहे हैं। राजनांदगांव के पूर्व जिला पंचायत सदस्य सुरेंद्र दाऊ ने उनसे पूछा कि क्या कांग्रेस के पंच सरपंच पार्टी में सिर्फ दरी उठाने के लिए है? कांग्रेस के 5 साल शासनकाल में कभी भी छोटे कार्यकर्ताओं की पूछ परख नहीं की गई ना ही उनका कोई काम किया गया। कांग्रेस के अंदर इस कदर जूतम पैजार मची हुई है कि कांग्रेस के एक पूर्व महामंत्री अरुण सिसोदिया ने कांग्रेस के कोषाध्यक्ष रामगोपाल अग्रवाल पर सीधा आरोप लगाया है कि उन्होंने पार्टी के साढे 5 करोड रुपए भूपेश बघेल के रिश्तेदार एवं पूर्व सलाहकार विनोद वर्मा के भतीजे की कंपनी को भुगतान कर दिए हैं। एक तरह से उन्होंने पार्टी की कोषाध्यक्ष पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाए हैं।

Latest news
Related news