35.2 C
Chhattisgarh
Thursday, May 30, 2024

कांग्रेस के बनाये लोकतंत्र के चलते ही अटल बिहारी बाजपेयी, मोदी प्रधानमंत्री बने,,,, भाजपा अब उसी लोकतंत्र को खत्म करना चाहती हैं- धनंजय सिंह ठाकुर 

रायपुर /29 अप्रैल 2024/ भाजपा के प्रेस वार्ता पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि आजादी के बाद कांग्रेस की सरकार लोकतंत्र की स्थापना नहीं करती तो भाजपा का नामोनिशान नहीं होता. कांग्रेस के द्वारा स्थापित लोकतंत्र के कारण ही वाजपेयी और मोदी प्रधानमंत्री बन सके हैं.

आज भाजपा की सरकार ही लोकतंत्र को खत्म करके तानाशाही शासन लाना चाहती है. बीते 10 साल से देश में अघोषित आपातकाल चल रहा है मोदी सरकार के नीतियों का विरोध करने वाले और सरकार के कामों पर उंगलियां उठाने वालों को डराया धमकाया जाता है केंद्रीय एजेंसियों के द्वारा झूठे मामले दर्ज कर फसाया जाता है.मोदी सरकार वन नेशन वन इलेक्शन की बात करके आम जनता को उनके मुखिया चुनने के अधिकार से वंचित करना चाहती है. पूरा देश ने देखा है कि मोदी सरकार बनने के बाद सर्वोच्च न्यायालय के पांच जज प्रेस वार्ता करके न्यायालय प्रक्रिया में हो रहे हस्तक्षेप जनता के बीच रखे थे. भाजपा डरी हुई है इसलिए कांग्रेस के घोषणा पत्र के खिलाफ दुर्भावना पूर्वक बयान बाजी कर रही है. भाजपा यह बताने की स्थिति में नहीं है कि 10 वर्षों में मोदी सरकार ने जनता से किये कितने वादे को पूरा किया है.

प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि कांग्रेस के घोषणा पत्र में गरीब महिलाओं को 1लाख रु सालाना देने का वादा किया गया है.गरीब महिलाओं को 1लाख रु की गारंटी से भाजपा नेताओं के पेट में दर्द क्यों हो रहा है? भाजपा नेताओं के मुंह में तब दही जम गया था जब मोदी सरकार ने 16 लाख करोड रुपए चंद पूंजीपतियों का माफ कर दिया. गरीब जनता से पेट्रोल डीजल के माध्यम से 30 लाख करोड रुपए की वसूली किया. हवाई चप्पल से लेकर खाद्य सामग्री, दवाईयां, पुस्तक कॉपी कपड़ों पर मोदी सरकार जीएसटी वसूली तब भाजपा नेताओं को सांप सूंघ गया था. तब उन्हें गरीबों की चिंता नहीं हुई कि गरीब कहां से टैक्स भरेंगे.
प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि कांग्रेस की सरकार ने आशा आंगनवाड़ी कार्यकर्ता मिड डे मील कार्यकर्ता और रसोइयों के मानदेय दोगुना करने की बात कही है तो गरीब विरोधी भाजपा नेताओं को तकलीफ हो रहा है.पूर्व कांग्रेस सरकार ने परित्यक्ता एवं वृद्धा पेंशन में वृद्धि किया था, बेरोजगार युवाओं को 2500 रु महीना भत्ता दिया क़ृषि मजदूरों को 7000रु सालाना दिया उन सारी योजनाओं को साय सरकार ने बंद कर दिया.भाजपा सरकार ने महतारी वंदन योजना के नाम के प्रदेश के 70% महिलाओं को धोखा दिया है.

प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि हर 10 साल में होने वाले जनगणना को मोदी सरकार ने सिर्फ इसलिए नहीं करवाया की संख्या के आधार पर आरक्षित वर्ग को उनके आरक्षण का लाभ मिल जाएगा और जब कांग्रेस ने जातिगत जनगणना की बात की तो भाजपा के नेता विरोध कर बता दिये कि भाजपा आरक्षित वर्गों के आरक्षण को खत्म करना चाहती है.इसीलिए कांग्रेस सरकार के दौरान विधानसभा में पारित76% आरक्षण संशोधन विधेयक को भाजपा ने राजभवन की आड़ में रुकवाया है. बाबा साहब डाक्टर भीमराव अंबेडकर के लिखे संविधान को भाजपा बदलना चाहती हैं और आरक्षित वर्गों को उनके कानूनी अधिकार से हटाना चाहते हैं.

Latest news
Related news