35.2 C
Chhattisgarh
Thursday, May 30, 2024

भाजपा सरकार ने प्रमाणित बीजों के दाम में वृद्धि कर महंगाई से पीड़ित किसानों पर वज्रपात किया – धनंजय सिंह ठाकुर 

रायपुर/ 12 अप्रैल 2024। प्रमाणित बीजों के दाम में की गई वृद्धि को वापस लेने की मांग करते हुए प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने प्रमाणित बीजों के दाम में वृद्धि करना भाजपा का किसान विरोधी चरित्र है। भाजपा सरकार ने प्रमाणित बीजों के दाम में 600 रु से लेकर 4600 रु तक की वृद्धि कर महंगाई से पीड़ित किसानों के ऊपर वज्रपात किया है. प्रमाणित बीजों के दाम में हुई वृद्धि से कृषि लागत मूल्य में वृद्धि होगी किसानों की आय कम होगी। किसान पहले से ही डीजल, रासायनिक खाद, कीटनाशक और कृषि यंत्रों के महंगे दामों से हताश और परेशान है. किसान कर्ज के बोझ तले दबे हुए हैं उनके उपज का सही मूल्य नहीं मिल पा रहा है. भाजपा की सरकार ने किसानों को वादा अनुसार समर्थन मूल्य नहीं दिया ना ही किसानों के आमदनी बढ़ाया है।

प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि कांग्रेस ने किसानों को कर्ज मुक्त करने उनकी आय बढ़ाने और उन्हें महंगाई से राहत देने के लिए केंद्र में सरकार बनने पर किसान न्याय की घोषणा की है. एमएसपी को कानूनी दर्जा मिलेगी। किसानों को कर्ज मुक्त करने के लिए आयोग का गठन होगा। किसानों को जीएसटी मुक्त उत्पाद मिलेंगे। किसानों के बेहतरी के लिए काम किया जाएगा।

प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि भाजपा सरकार का मकसद सिर्फ किसानों को प्रताड़ित करना उससे जीएसटी वसूलना और उनका कर्ज के बोझ तले दबाना है. कांग्रेस सरकार के दौरान प्रमाणित बीज मोटा धान की कीमत 2800 रु से वह बढ़कर 3400 रु., पतला धान की बीज 3000रु से बढ़कर, 3900 रु., सुगंधित धान 3400 रु दर से बढ़कर 4500 रुपए, कोदो 6000 रु से बढ़कर 7200 रु, रागी का बीज 3400 रुपए से बढ़कर 4500 हो गया है, उड़द का बीज 10250 रु से बढ़कर 12500रु, मूंगफली बीज 9500 रु से बढ़कर 11900, रु तिल का बीज 14700 रु से बढ़कर 19300 रु हो गया है।

 

Latest news
Related news