25.2 C
Chhattisgarh
Tuesday, July 23, 2024

कांग्रेस का आरोप, ढाई महीने में ही हांफने लगी है विष्णुदेव साय सरकार, ले चुकी है 13000 करोड़ का नया कर्ज

वित्त मंत्री ओपी चौधरी के बयान पर कांग्रेस प्रवक्ता सुरेंद्र वर्मा ने किया पलटवार 

रायपुर/28 फरवरी 2024। वित्तमंत्री ओपी चौधरी के बयान पर पलटवार करते हुए प्रदेश कांग्रेस कमेटी के वरिष्ठ प्रवक्ता सुरेंद्र वर्मा ने कहा है कि तथाकथित डबल इंजन की भाजपा सरकार ढाई महीने में ही हांफने लगी है। विष्णुदेव साय सरकार से ना प्रदेश संभल रहा है ना ही प्रदेश की अर्थव्यवस्था। भाजपा सरकार की ना अपनी कोई अपनी योजना छत्तीसगढ़ में पूरी तरह से धरातल पर उतारी जा सकी है और ना ही ये पूर्ववर्ती सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं को व्यवस्थित तरीके से संचालित कर पा रहे हैं। बेरोजगारों को मिलने वाला बेरोजगारी भत्ता नवंबर माह से बंद है जिसका बजट प्रावधान पूर्ववर्ती सरकार द्वारा 31 मार्च 2024 तक के लिए किया गया था। यही नहीं विगत खरीफ़ सीजन के राजीव गांधी किसान न्याय योजना की चौथी किस्त की राशि भी भाजपा की विष्णुदेव सरकार ने हड़प लिया। पूर्ववर्ती सरकार द्वारा छत्तीसगढ़ की जनता को दी जाने वाली राहत और सब्सिडी को बंद करके भाजपा की विष्णुदेव सरकार केवल भ्रष्टाचार के लिए कर्ज पर कर्ज लेती जा रही है। विगत डेढ़ माह के भीतर ही साय सरकार ने 13000 करोड़ का अतिरिक्त कर्ज़ लिया है।

प्रदेश कांग्रेस कमेटी के वरिष्ठ प्रवक्ता सुरेंद्र वर्मा ने कहा है कि वित्तमंत्री ओपी चौधरी बताएं की विधानसभा चुनाव के दौरान 500 रूपए में गैस सिलेंडर देने की मोदी की गारंटी का क्या हुआ? वादे के अनुरूप ना छत्तीसगढ़ के किसी भी गांव में अब तक धान खरीदी के भुगतान का केंद्र खुला है और ना ही एक भी किसान को 3100 रूपए प्रति क्विंटल की दर से एक मुश्त धान की कीमत मिली है। 18 लाख पीएम आवास भी केवल झूठ, लफ्फाजी और भाजपाइयों के विज्ञापन तक ही सीमित है, एक भी हितग्राही को पीएम आवास विष्णुदेव साय की सरकार ने अब तक नहीं दिया है, वित्तमंत्री बताएं फिर ये डेढ़ माह के दौरान अतिरिक्त ऋण के रूप में लिए गया 13000 करोड़ रूपया आखिर गया कहां?

प्रदेश कांग्रेस कमेटी के वरिष्ठ प्रवक्ता सुरेंद्र वर्मा ने कहा है कि जिस तरह से केंद्र में मोदी की सरकार देश के संसाधन अपने चंद पूंजीपति मित्रों को बेच रही है और देश पर कुल कर्ज का भार लगातार बढ़ाते जा रहे हैं, मोदी राज में देश में भुखमरी, गरीबी, महंगाई, बेरोजगारी और कर्ज बढ़ते जा रही है उसी तर्ज पर छत्तीसगढ़ में भी भाजपा की सरकार मोदी के मित्रों के मुनाफे के लिए हसदेव के जंगल कटवा रहे है, नंदराज पर्वत की तर्ज़ पर एनएमडीसी के नगरनार प्लांट को भी बेचने का षड्यंत्र रच रच है और जनता को मिलने वाले राहत और सब्सिडी को बाधित कर रहे है। गोठानो के माध्यम से जो 27 लाख से अधिक महिलाएं अपनी आजीविका कमा रही थी, आर्थिक रूप से समृद्ध हो रही थी, उनके रोजगार पर भी ग्रहण लगाने का काम जनविरोधी विष्णुदेव साय की सरकार ने किया है। असलियत यह ही है कि भारी भरकम कर्ज लेने के बावजूद डबल इंजन की भाजपा सरकार जनता से किए गए वादे को पूरा करने में नाकाम है। छत्तीसगढ़ के संसाधन मोदी के मित्रों और भाजपा नेताओं के भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ रही है।

Latest news
Related news